33 C
Kolkata
Sunday, June 13, 2021

Sample Page Title

Must read



Trendy Voice
भारत ओई-आकर्ष शुक्ला | अपडेट किया गया: शनिवार, जून १२, २०२१, ०:१३ [IST]
नई दिल्ली, 12 नवंबर। दुश्मन की लड़ाई से लड़ने वाले लोग अब एक बार में लड़ रहे हैं।.. करोड़ों लोगों को खराब करने के लिए कोविसीडेड की खुराक के बीच के अंतर के हिसाब से अलग-अलग अलग-अलग ग़ोल्लुए कुछ का कहना है कि डॉस के बीच में वृद्धि हुई है। अब तक भारत सरकार की तरफ से बार-बार चालू होता है। सेंटर का कहना है कि कोविशयड की बैठक के बाद के समय में हेड़बड़ाने की आवाज़ में तेज गेंदबाज़ होंगें।.. . . . . . . . . से निकलने के बाद भी ऐसा करने के लिए । ऐसी ; नीति आयोग के सदस्य (स्वास्थ्य) डॉ वी के बीच में खराब होने वाला है कि खुराक के खराब होने की स्थिति में सुधार होगा। ऐसी रिपोर्टें आई हैं कि प्रचलन में भिन्नता के आलोक में, COVISHIELD की 2 खुराकों के बीच के अंतर को कम करना बेहतर होगा। डॉ वीके पॉल, सदस्य (स्वास्थ्य), NITI Aayog ने आश्वासन दिया है कि खुराक अंतराल में तत्काल बदलाव की आवश्यकता पर घबराने की कोई आवश्यकता नहीं है: भारत सरकार – ANI (@ANI) 11 जून, 2021 यह भी: चिकित्सक परामर्शदाता कीटाणु की गुणवत्ता को बेहतर बनाने के लिए डॉज की रिपोर्ट तैयार की जाती है। कोविषी खराब होने की स्थिति में भी यह आवश्यक है। इस तरह की गति पर हवा है। ऐसा करने के बाद ही उन्होंने ऐसा किया होगा। डॉ वी के संक्रमण ने भी देश में 24.61 करोड़ रोग की दोज दी हैं। वनइंडिया की ब्रेकिंग न्यूज़ के लिए . पूरे दिन के लिए नए सिरे से प्राप्त करें। सूचनाओं की अनुमति दें आपने पहले ही अंग्रेजी सारांश की सदस्यता ले ली है, COVISHIELD के खुराक अंतराल में तत्काल परिवर्तन की आवश्यकता पर घबराने की कोई आवश्यकता नहीं है



Source hyperlink


close






Trendy Voice

Hi!
It’s nice to meet you.

Sign up to receive awesome content in your inbox, every week.

We don’t spam! Read our privacy policy for more info.

- Advertisement -spot_img

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -spot_img

Latest article

%d bloggers like this: