Washington Sundar praises indian players ravi shastri Dressing Room india vs australia | टीम इंडिया के Dressing Room की सबसे खात बात, Washington Sundar ने किया खुलासा

    2


    नई दिल्ली: ब्रिसबेन में भारत की जीत में युवा खिलाड़ी वाशिंगटन सुंदर (Washington Sundar) ने अहम भूमिका निभाई. वाशिंगटन ने गाबा में पहली पारी में 62 रन बनाकर भारत को मैच में बनाए रखा और फिर दूसरी पारी में 22 रन की पारी खेली, जिसमें पैट कमिंस पर लगाया गया छक्का भी शामिल है. इसके अलावा उन्होंने चार विकेट भी लिए.

    21 वर्षीय वाशिंगटन (Washington Sundar) भारत अंडर-19 के दिनों में शीर्ष क्रम के विशेषज्ञ बल्लेबाज थे लेकिन उन्होंने अपनी ऑफ स्पिन को निखारा और भारतीय टी20 टीम में जगह बनाई. 

    सुंदर ने की खिलाड़ियों की तारीफ

    वाशिंगटन सुंदर (Washington Sundar) का मानना है कि टेस्ट टीम में आए किसी युवा खिलाड़ी के लिए किसी बाहरी खिलाड़ी से प्रेरणा लेने की जरूरत नहीं है क्योंकि भारतीय ड्रेसिंग रूम में ही कई आदर्श खिलाड़ी हैं.

    Team India को मिली चेतावनी ,Joe Root का जबरदस्त प्रदर्शन जारी; ठोका करियर का 19वां शतक

    वाशिंगटन (Washington Sundar) ने कहा, ‘एक युवा होने के नाते जब मैं किसी से प्रेरणा लेना चाहता हूं तो मुझे अपने ड्रेसिंग रूम में ही इतने अधिक आदर्श खिलाड़ी मिल जाते हैं. विराट कोहली, रोहित शर्मा, अजिंक्य रहाणे, आर अश्विन जैसे बेहतरीन प्रदर्शन करने वाले खिलाड़ी वहां हैं. ये खिलाड़ी हमेशा आपकी मदद के लिए तैयार रहते हैं’.

    सुंदर ने की रवि शास्त्री की तारीफ

    युवा वाशिंगटन सुंदर (Washington Sundar) ने बताया की कोच रवि शास्त्री की ड्रेसिंग रूम में दी गई ‘दृढ़ता और प्रतिबद्धता’ की सीख ने उनके लिए कैसे टॉनिक का काम किया, जो किसी भी तरह की चुनौती के लिए तैयार हैं, जिसमें टेस्ट मैचों में भारत के लिए पारी का आगाज करना भी शामिल है.

    वाशिंगटन ने चेन्नई से अपने आवास से पीटीआई-भाषा से कहा, ‘अगर मुझे कभी भारत की तरफ से टेस्ट मैचों में पारी का आगाज करने का मौका मिलता है तो यह मेरे लिए वरदान होगा. मुझे लगता है कि मैं उसी तरह इसे चुनौती के रूप में स्वीकार करुंगा जैसे हमारे कोच रवि सर ने अपने खेल के दिनों में किया था’.

    उन्होंने कहा, ‘रवि सर ने हमें खेल के अपने दिनों की प्रेरणादायी बातें बताई. जैसे कि कैसे उन्होंने विशेषज्ञ स्पिनर के तौर पर पदार्पण किया तथा चार विकेट लिए और न्यूजीलैंड के खिलाफ इस मैच में दसवें नंबर पर बल्लेबाजी की’.

    वाशिंगटन (Washington Sundar) ने कहा, ‘और वहां से वह कैसे टेस्ट सलामी बल्लेबाज बने और उन्होंने कैसे अपने जमाने के सभी शीर्ष तेज गेंदबाजों का सामना किया. मैं भी उनकी तरह टेस्ट मैचों में पारी की शुरुआत करना पसंद करुंगा’.

    सुंदर के लिए स्मिथ का विकेट सपने जैसा

    वाशिंगटन (Washington Sundar) को सीमित ओवरों की श्रृंखला समाप्त होने के बाद नेट गेंदबाज के रूप में ऑस्ट्रेलिया में रहने के लिए कहा गया. इससे उन्हें लाल गेंद से नेट पर काफी गेंदबाजी करने को मिली.

    भारत की तरफ से एक टेस्ट के अलावा 26 टी20 और एक वनडे खेलने वाले वाशिंगटन (Washington Sundar) ने कहा, ‘इससे निश्चित तौर पर मुझे मदद मिली क्योंकि मुझे टेस्ट मैचों के लिए टीम में बने रहने के लिए कहा गया था. लेकिन वह हमारे गेंदबाजी कोच भरत अरुण सर सहित सभी कोचों की रणनीति थी जिससे मदद मिली’.

    उन्होंने कहा, ‘ब्रिसबेन में पहले दिन पिच से मदद नहीं मिल रही थी लेकिन पहले टेस्ट विकेट के तौर पर स्टीव स्मिथ का विकेट लेना सपना सच होने जैसा था’.

     





    Source link

    close

    Hi!
    It’s nice to meet you.

    Sign up to receive awesome content in your inbox, every week.

    We don’t spam! Read our privacy policy for more info.